Latest News

Sunday, August 23, 2020

घरों में पधारे गजानन, गणपति बप्पा के उद्घोष से शुरू हुई गणेश पूजा



ब्यूरो रिपोर्ट


फतेहपुर। भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि में आज शनिवार को प्रथम पूज्य गणेश के पूजन का उत्सव जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में मनाया गया। गणपति बप्पा मोरया के उद्घोष के साथ भक्तों ने विधि-विधान से अपने-अपने घरों में ही भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित कर शारीरिक दूरी का अनुपालन करते हुए पूजन किया। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के कारण इस बार जिले में कहीं भी गणेश उत्सव का पंडाल नहीं सजाया गया है।आचार्य पंडित राजेश अवस्थी ने बताया कि साल भर में पडऩे वाली चतुर्थियों में यह सबसे बड़ी मानी जाती है। गणेश चतुर्थी पर गणपति का पूजन करने से संपन्नता, समृद्धि, सौभाग्य और धन का समावेश होता है। बता दें कि सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन द्वारा जिले में सार्वजनिक स्थानों पर सार्वजनिक पूजा और जुलूसों के अलावा बड़ी गणेश मूर्तियों की स्थापना पर प्रतिबंध लगा दिया था। वहीं लोगों से अपने घरों में ही उत्सव मनाने की अपील भी की थी।

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision