Latest News

Saturday, June 27, 2020

कानपुर : जब हौसला बना लिया ऊंचीबउड़ान का, फिर देखना फिजूल है कद आसमान का,दिव्यांग डेवलपमेंट सोसाइटी के बच्चों में दिखी, उड़ान हौसलों की



कानपुर महानगर। (🖋 सर्वोत्तम तिवारी) दिव्यांग बच्चों ने यूपी बोर्ड परीक्षा में उत्तीर्ण होते हुए 70% अंक पाकर, जहां अपने ज़ज्बे को दिखाया है, वहीं संस्था व अपने जन्मदाता का नाम भी रोशन किया है। ऐसे बच्चों के जज्बे को हर कोई सलाम कर रहा है। संस्था की सचिव मनप्रीत कालरा ने सभी को बधाई दी और कहा कि हमें ऐसे बच्चों पर गर्व है।


 माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 के नतीजे शनिवार को जारी कर दिए गए। हाईस्कूल में लगभग 83.31 फीसदी परीक्षार्थी सफल हुए। हाईस्कूल में लड़कियों का सफलता प्रतिशत 87.29 रहा। वहीं लड़कों का सफलता प्रतिशत 79.88 रहा।

उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के अनुसार इस साल 10वीं, 12वीं दोनों का रिजल्ट पहले की तुलना में बेहतर रहा है। आपको बता दें कि हाईस्कूल में 33 छात्रों ने टॉप-10 की पोजिशन हासिल की है। कानपुर की दिव्यांग डेवलपमेंट सोसाइटी के बच्चों द्वारा अच्छी बाजी मारने पर इनके बीच खुशी की लहर दौड़ गई, दिव्यांग बच्चों की काबिलियत पर हर कोई गर्व कर रहा है।

             

                 हम किसी से कम नहीं यह बात आज एक बार फिर दिव्यांग डेवलपमेंट सोसाइटी के बच्चों द्वारा पूर्णता रूप से साबित हुई है। आज घोषित होने वाले 12वीं यूपी बोर्ड का रिजल्ट आते ही संस्था के इन बच्चों में खुशी की लहर दौड़ गई। एक नई दिशा, एक नई उड़ान, एक नए हौसले के लिए तैयार इन दिव्यांग बच्चों का मनोबल आज एक बार फिर से देखने लायक है। दिव्यांग डेवलपमेंट सोसाइटी के इन बच्चों में हिमांशु गुप्ता, स्वाति गुप्ता, कुलदीप कुमार, सिमरन वर्मा आदि ने 70% अंक प्राप्त कर 12वीं कक्षा, बोर्ड परीक्षा में  उत्तीर्ण हुए हैं।


दिव्यांग डेवलपमेंट सोसाइटी की सचिव, लोकप्रिय समाजसेविका मनप्रीत कालरा ने इन बच्चों के उज्जवल एवं स्वर्णिम भविष्य की कामना करते हुए सभी को शुभकामनाएं दी हैं। सचिव मनप्रीत कालरा, संस्था और इन होनहार बच्चों की बात करते हुए यह मानती हैं कि यह बच्चे आगे चलकर हौसलों की नई ऊंचाइयों छूने के लिए तैयार हैं। उन्होंने संस्था के सभी अध्यापक, सभी मेंबर, सभी स्टाफ का धन्यवाद करते हुए इसी तरह भावनाओं से इन बच्चों की देखभाल करने का संदेश दिया। जनसेवा के कार्यों में सदैव तत्पर रहने वाली मनप्रीत कौर ने परीक्षा में उत्तीर्ण हुये छात्र -छात्राओं को मिठाई खिलाकर उनका उत्साहबर्धन किया।

                 यही जश्न का माहौल अन्य स्कूलों के छात्रों का भी रहा। गुरुनानक गर्ल्स इंटर कालेज की छात्रा शास्त्रीनगर निवासी हर्षिता शुक्ला ने 67% अंक पाकर 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की।
यूपी बोर्ड परीक्षा में उत्तीर्ण हुये इस वर्ष के विद्यार्थियों को पहली बार डिजिटल हस्ताक्षर वाली मार्कशीट मिलेगी। यूपी बोर्ड 2020 की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षा में शामिल लगभग 50 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं को पहली बार डिजिटल हस्ताक्षर वाली मार्कशीट देने जा रहा है। लेकिन सचिव नीना श्रीवास्तव के डिजिटल हस्ताक्षर वाली मार्कशीट अपलोड होने में दो-तीन का समय लगेगा। सूत्रों के अनुसार हर साल रिजल्ट के समय इंटरनेट से जो अंकपत्र बच्चों को मिलता है, उसकी कोई कानूनी मान्यता नहीं होती है। लेकिन डिजिटल हस्ताक्षर वाली मार्कशीट प्रवेश से लेकर नौकरी तक में मान्य होती है। यही कारण है कि पहले इंटरमीडिएट के बच्चों को ये विशेष रूप से तैयार अंकपत्र देने की तैयारी है, ताकि उन्हें आगे स्नातक या अन्य प्रवेश में किसी तरह की परेशानी न हो। बाद में हाईस्कूल के बच्चों को उपलब्ध कराई जाएगी। इसे स्कूलों के माध्यम से बच्चों को देने पर विचार चल रहा है। ताकि प्रधानाचार्यों की जिम्मेदारी तय की जा सके। प्रधानाचार्य बोर्ड की वेबसाइट से डिजिटल हस्ताक्षर वाली मार्कशीट डाउनलोड कर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए उसे बच्चों को बांटेंगे।

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision