Latest News

Monday, June 8, 2020

कानपुर : ग्राम अनवा महेंद्र पाल सिंह की दबंगई, मजदूरों का पैसा, शौचालय, आवास में करते हैं खेल


 कानपुर/ लॉक डाउन में पनपे गरीबी के दर्द को सिर्फ मजदूर ही समझ सकते है लेकिन इन्हीं मजदूरों के द्वारा बनाए गए इनके ही पालनहार इनकी ही बातों को समझने से गुरेज करते हैं। और यही नहीं इनका ही हक मारने का प्रयास करते हैं. मामला कानपुर देहात के एक छोटे से गांव अनवा की जहां के प्रधान महेंद्र पाल सिंह की दबंगई इतनी व्याप्त है कि यह अपने आप को प्रदेश का मुखिया और जिलाधिकारी समझते हैं और यही नहीं ग्राम वासियों से कहते हैं जाइए जिससे मेरी शिकायत करना हो कर दीजिए मेरी तो गाड़ी ऐसे ही चलेगी जहां मनरेगा में मजदूरों का पैसा अभी तक नहीं मिला वहीं दूसरी ओर कम मजदूर लगाकर ज्यादा मजदूरो को दिखाकर उनका पैसा भी ले लेते हैं। गांव की सड़कें बदहाल हैं ग्राम वासियों के पास आवास नहीं है उनके पास शौचालय नहीं है लेकिन इन सब का प्रधान जी से कोई वास्ता नहीं इनका तो बस एक ही मकसद है गरीब ग्राम वासियों का हक मारो और अपना घर भरो और यही नहीं जब लोग प्रधान जी से ऊपर शिकायत करने जाते हैं तो यह नाराज हो जाते हैं


गांव को अपना परिवार मानने वाले शहीद करण सिंह चंदेल के पुत्र विनोद सिंह चंदेल ने भी कई बार प्रधान जी की शिकायत विकासखंड में की लेकिन प्रधान जी किसी की नहीं सुनते हैं।

 मीडिया ने जब इस बाबत बात करने का प्रयास प्रधान जी से किया तो प्रधान ने मीडिया को ही चैलेंज दे दिया।

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision