Latest News

Monday, March 11, 2019

अमेठी : फर्जी कागजात बनवाकर कीमती जमीन कब्जाने वालों का हुआ पर्दा फास



मामले का खुलासा होने के बाद नही हुआ बैनामा


जालसाजों के परिवार द्वारा फर्जी प्रतिलिपि तैयार कर बैनामा कराने की हसरत पूरी नही हो सकी शिकायत के बाद जहां बैनामा रोक दिया गया वहीं अब जालसाजों के ऊपर मुकदमा दर्ज होने की तलवार लटक रही है। प्रकरण जगदीशपुर थाना क्षेत्र के कचनाव पूरे चोपई मिश्र गांव का है जहां अयोध्या जनपद के लिलहा रसूलपुर गांव निवासी शेषनाथ मिश्रा, गोरखनाथ मिश्रा, अमरनाथ मिश्रा व सावित्री देवी के नाम से कूटरचित परिवार रजिस्टर व अन्य अभिलेख तैयार करके सुरेश त्रिपाठी निवासी कचनाव पूरे चोपई मिश्र तहसील मुसाफिर खाना जनपद अमेठी ने तहसील पहुँच कर बेशकीमती जमीन को हड़पने की नियति से बैनामा कराना शुरु कर दिया। जिसकी जानकारी होने पर भूस्वामी ने मामले की शिकायत सब रजिस्ट्रार मुसाफिरखाना समेत आला अधिकारियों से की जिस पर बैनामा रोक दिया गया और पूरे मामले की जांच शुरू कर दी गयी ।
ज्ञात हो कि विगत दिनों इसी जमीन के विवाद में ही एक शिकायत के जवाब में तहसीलदार मुसाफिर खाना द्वारा उक्त लोगों को दूसरे जनपद का निवासी होने की रिर्पोंट दी गई है। बावजूद इसके धोखाधड़ी तथा कूट रचना करके उक्त जमीन को हथियाने का कार्य करने का प्रयास किया गया । जबकि राजस्व अभिलेखों में उक्त भूमि पुरानी आबादी के खाते में दर्ज है और वह शिकायतकर्ता चन्द्रिका प्रसाद त्रिपाठी के हस्ताक्षर है। उक्त भूमि पर चन्द्रिका प्रसाद त्रिपाठी की काफी पुरानी सरिया व भुसैल भी निर्मित है। सब रजिस्ट्रार भानु प्रताप सिंह ने बताया कि फर्जीवाड़ें से संबधित शिकायत प्राप्त हुई है बैनामा होल्ड कर मामले की छानबीन की जा रही है।यदि मामला सही पाया गया तो तत्काल फर्जी कागजात बनाने वालों से लेकर मामले में संलिप्त सभी दोषियों पर कार्यवाही होनी तय है।

ब्यूरो रिपोर्ट

नेशनल आवाज़ अमेठी

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision