Latest News

Thursday, March 14, 2019

KANPUR : वेतन न मिलने पर मजदूरों ने किया प्रदर्शन, केंद्र सरकार पर लगाया आरोप।




अब तक लाल इमली के 41 मजदूरों की जान जा चुकी है लेकिन सरकार खामोश बैठीं है।


पिछले 19 महीने से वेतन न मिलने पर लाल इमली के श्रमिकों के घर रोटी के लाले पड़ने लगने है। आर्थिक स्थिति कमजोर होने के चलते कई मजदूर इलाज के अभाव में दम तोड़ रहे है। बुधवार को भी एक मजदूर की मौत के बाद कर्मचारियों ने लाल इमली गेट पर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन करते हुए वेतन की मांग किया। लाल इमली मिल के मजदूरों को पिछले 19 महीनों से एक रुपया भी वेतन नही मिला है। जिसके बाद सैकड़ों मजदूर परिवार अब भुखमरी की कगार पर आ गए है। इंटक नेता आशीष पांडेय की अगुवाई में गुरूवार को मिल के मजदूरों ने गेट पर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर अपना विरोध जाहिर किया। वहीं इलाज के अभाव में बुधवार को लाल इमली के एक और मजदूर ने दम तोड़ दिया। बता दें कि अब तक तंगहाली में जूझ रहे 41 मजदूरों की जान जा चुकी है। लेकिन सरकार की ओर से कर्मचारियों को लेकर कोई फरमान न जारी होने से मिल के मजदूरों में भारी आक्रोश है। केंद्र सरकार से वेतन की मांग करते हुए इंटक नेता ने कहा कि पीएम ने कानपुर की रैली में भी लाल इमली व अन्य मिलों का जिक्र नही किया। मजदूर विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहाकि चुनाव से पहले मिलों को शुरु कराने का वादा किया गया था लेकिन मिलों को शुरु कराना तो दूर 19 महीनों से कर्मचारियों को वेतन तक नही दिया। वहीं मजदूरों का कहना है कि इतने मजदूरों की मौतों के बाद भी सरकार की आंखे नही खुल रही है आखिर कब तक मजदूर अपनी जानें गवांते रहेंगे।


रिपोर्ट- मंगल सिंह तोमर

नेशनल आवाज़ कानपुर

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision