Latest News

Sunday, February 10, 2019

कानपुर : साहित्यिक मेले में देश-विदेश से आये लेखकों का हुआ जोरदार स्वागत।




कानपुर जनपद के आजाद नगर में एनएलके दिशा स्कूल में चल रहे साहित्यिक मेले में शनिवार को ऑस्ट्रेलिया से आए प्रख्यात लेखक ओलिवर ने अपने जीवन से जुड़ी विभिन्न बातों को साझा करते हुए कहाकि उन्होंने एक शिक्षक के रुप में भी कार्य किया है। मौजूदा दौर में उन्होंने शिक्षक की भूमिका को बेहद ही महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि आधुनिक युग में किताबों से हटकर बच्चे इंटरनेट की दुनिया में खो चुके है। ऐसे में शिक्षक ही एकमात्र ऐसा व्यक्त्ति है जो इंटरनेट की दुनिया में खो चुके बच्चों को वापस किताब की ओर लौटा सकता है। क्योंकि किताबी ज्ञान मस्तिष्क में सदा-सदा के लिए बसता है। इस कार्यक्रम में रितु वैष्णव ने कहा कि समाज में जो गलत धारणाएं है उन्हें तोड़ने की आवश्यकता है। थियेटर कलाकार अक्षय गांधी ने कांवड़ कथा प्रस्तुत किया वहीं 2017 नेशनल बुक ऑनर अवार्ड जीत चुके ईशान शर्मा ने एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन पर लिखी किताब के द्वारा लीडर कौन है कैसे बनते है पर प्रकाश डाला। वहीं फिल्म तनु वेड्स मनु के गाने लिखकर सबको अपना फैन बनाने वाले राज शेखर ने कहा कि लोगों को अपने जीवन में मिलने वाली असफलता से घबराना नही चाहिए और न ही सफलता मिलने पर ज्यादा इतराना चाहिए क्योंकि सफलता असफलता से ज्यादा प्रयास मह्तवपूर्ण होता है। उन्होंने कहा कि निरंतर प्रयास से सफलता जरुर मिलती है। इसलिए व्यक्त्ति को संघर्ष करते रहना चाहिए।

रिपोर्ट- मंगल सिंह तोमर

नेशनल आवाज़ कानपुर

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision