Latest News

Thursday, February 7, 2019

कानपुर : आईआईटी- उन्नत भारत अभियान (यूबीए) से जोड़ें जाएंगे गांवों के छात्र।



गांव से उन्नत भारत अभियान (यूबीए) की एक कार्यशाला का आयोजन बुधवार को आईआईटी कानपुर में सम्पन्न हुआ। जिसमें उत्तर प्रदेश के 90 संस्थानों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्रोफेसर बी. वी. ने शिक्षकों से दिल और दिमाग से गांव से जुड़ने की अपील की। पूर्व छात्रों से उन्होंने कहा कि वो शीघ्र ही ‘एक गांव गोद लेने’ की योजना चालू कर देंगे। जिससे और अधिक आर्थिक संसाधन जुटाये जा सकें। कार्यशाला में उन्नत भारत अभियान के नेशनल समन्वयक प्रोफेसर वी. के. विजय ने बताया कि इसका उद्देश्य छात्रों को गांव की समस्याओं से रुबरु करना है। मौजूदा समय में देश के 2010 यूजीसी और एआईसीटीई के संस्थान इस कार्यक्रम से जुड़ गए है, और यह दुनिया का सबसे बड़ा शैक्षिक आउटरिच कार्यक्रम है। आईआईटी कानपुर के समन्वयक यूबीए प्रोफेसर संदीप संगल ने बताया कि संस्थान के पूर्व छात्र अब आईआईटी द्वारा गोद लिए गांव की मदद के लिए आगे आ रहे है। आईआईटी कानपुर के पूर्व छात्र हरीशंकर ने गांव को अपनाकर उसे पूरा जैविक करने का जिम्मा लिया है। कार्यक्रम की समन्वय रीता सिंह ने बताया कि किस प्रकार से गांव में काम किया जाए, विद्यार्थियों को जोड़ने व मेहनत भी सार्थक होने के बारे में इस दौरान अपने तमाम अनुभव प्रतिनिधियों से साझा किए। इस कार्यशाला की खास बात यह थी कि बड़ी संख्या में गांव के लोग उपस्थित थे, और उन्होंने अपने अनुभव और समस्यायें भी साझा की। साथ ही आईआईटी के छात्र भी मौजूद रहे।

रिपोर्ट- लवकुश आर्या

नेशनल आवाज़ कानपुर

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision