Latest News

Monday, August 13, 2018

सीसामऊ पुलिस ने 40 किलोमीटर पीछा कर पकड़ी 50 लाख की शराब



कानपुर। उत्तर प्रदेश के शराब माफियाओं की कमर तोड़ने में जुटी पुलिस को कानपुर में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। सीसामऊ थाना पुलिस ने 40 किलोमीटर पीछा कर ट्रक को पकड़ते हुए 50 लाख कीमत की शराब बरामद की है। बरामद हरियाणा की शराब के साथ दो लोगों को गिरफ्तार करते हुए कानपुर देहात के अकबरपुर थाना में मुकदमा दर्ज कराया। अकबरपुर पुलिस ने अभियुक्तों पर कार्यवाही करते हुए जेल भेज दिया। 
 

सीसीमऊ थाना प्रभारी संतोष कुमार आर्य ने बताया कि बीती रात वह जरीब चौकी पर गश्त कर रहे थे। इस दौरान एक ट्रक जीटी रोड की ओर से आता दिखाई दिया। शक की आशंका पर दस्तावेज चेकिंग के लिए चालक को जैसे की गाड़ी रूकने का इशारा किया गया वह भागने लगा। ट्रक लेकर चालक एनएच-2 हाइवे की ओर भाग निकला। मामले की जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को दी गई। जिस पर एसएसपी अखिलेश कुमार ने ट्रक का पीछा कर पकड़ने के निर्देश दिये। सीसामऊ इंस्पेक्टर ने ट्रक का 40 किलोमीटर पीछा करते हुए कानपुर देहात जनपद के बारा जोड़ मोड़ के पास पकड़ लिया। पुलिस ने तलाशी के दौरान ट्रक में भारी मात्रा में हरियाणा से लाई जा गई 655 अग्रेंजी शराब की पेटियां बरामद करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। बरामद शराब की कीमत 50 लाख रूपये बताई जा रही है। 

सीसामऊ इंस्पेक्टर ने बताया कि पकड़े गये अभियुक्तों में सिकंदरा थानाक्षेत्र में रहने वाला बालकृष्ण व उसका बेटा आनन्द कुमार हैं। एसएसपी कानपुर के निर्देश पर सीसामऊ पुलिस ने तस्करों, बरामद शराब को  ट्रक समेत मुकदमा दर्ज कराते हुए अकबरपुर थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया। अकबरपुर इंस्पेक्टर ऋषिकांत शुक्ला ने शराब तस्करों को पकड़ने का श्रेय लेने के लिए मुठभेड़ के बाद शराब तस्करों को ट्रक समेत पकड़ने का दावा करने लगे। फिलहाल अभियुक्तों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए पुलिस ने बरामद शराब जब्त कर तस्करों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। 


ट्रक में बने बंकर में छुपाई गई थी शराब -
हरियाणा से तस्करी कर लाई जा रही शराब को ट्रक में बनाये गये लोहे के बंकर नुमा हिस्से में छुपाकर रखा गया था। पुलिस व आबकारी की टीम पकड़ न सके, इसलिए उसके आगे व ऊपर माल भर दिया जाता था। ताकि उन्हें कोई पकड़ न सके। सीसामऊ इंस्पेक्टर संतोष कुमार आर्य के मुताबिक जिस ट्रक से 50 लाख की शराब बरामद हुई हैं उसकी बॉडी में अंदर की ओर लोहे का बक्सा नुमा बंकर बना था। जिसके अंदर हरियाणा से लाई जा रही शराब रखी थी। बॉडी पर बनाये गये बंकर से प्रतीत हो रहा था कि वह काफी पुराना है और शराब तस्करी के काम में ही इस ट्रक को इस्तेमाल किया जाता है। 

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision