Latest News

Monday, August 13, 2018

कानपुर : सीएम योगी ने किया घाटों का लोकार्पण, 15 दिसम्बर के बाद गंगा में नहीं गिरेंगे नाले

कानपुर। नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत कानपुर पहुंचे केंद्रीय मंत्री जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण नितिन गडकरी और मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने 24 घाटों और 3 शवदाह गृहो का उद्घाटन किया। कानपुर में नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत 1414.83 करोड़ की योजनाएं स्वीकृत की गई। जिनसे गंगा को पूरी तरह साफ और निर्मल किया जाएगा। इस दौरान गंगा टॉक्स फोर्स का भी विधिवत गठन किया गया।


कानपुर के सीएसए प्रांगण में नमामि गंगे कार्यक्रम का आयोजन उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की अध्यक्षता में किया गया। जिसमे मुख्य अथिति केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कानपुर के 24 घाटों, 3 शवदाह ग्रहों समेत 1414.83 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की सहायता से किया। 


इस दौरान श्री गडकरी ने गंगा को अस्मिता और संस्कृति का प्रतीक बताते हुए कहा कि उनके विभाग के पास पैसे की कोई कमी नही है। प्रदेश सरकार की तरफ से गंगा से जुड़े मामले की जितनी भी डीपीआर आएंगी वह पास होंगी। गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए योगी सरकार जो भी करेगी वह उसके साथ है। उन्होंने बताया कि देश मे गंगा से जुड़ी 240 योजनाएं बनी है। जिनमे से 50 पूरी हो चुकी है, 120 स्वीकृत होकर टेण्डर प्रक्रिया में है। जबकि बाकी की डीपीआर भी लगभग तैयार है।


इस दौरान उन्होंने कानपुर वासियो की चुटकी लेते हुए कहा कि गंगा को दूषित करने वाले 10 शहर है जिनमे से कानपुर का पहला स्थान है। उन्होंने कहा कानपुर लखनऊ हाइवे जल्द बनेगा जिसके बाद आम लोग लखनऊ मात्र 40 मिनट में पहुंच सकेंगे। इस दौरान लोग बारा जोड़ टोल माफ करने की मांग करते हुए नारे बाजी करने लगे तो उन्होंने जल्द ही इस समस्या से निजात दिलाने की बात कही। 


इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगो को सम्बोधित करते हुए कहा कि गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए हमसे जो बनेगा वो हम करेंगे। इस लिए गंगा टॉक्स फोर्स का गठन किया गया है। आगामी कुम्भ के दौरान हम पूरी तरह से गंगा को स्वच्छ और निर्मल बना कर आम जनता को सौगात देंगे। इसके लिए 15 दिसम्बर डेड लाइन जारी की गई है। नमामि गंगे के तहत 4 परियोजनाएं अनुमोदित है जिनमे से दो क्रियान्वित है जबकि दो टेंडर प्रक्रिया में है। 


जिसमे नालो का कार्य भी शामिल हैं। आपको बता दे कि गंगा की कुल लम्बाई 2525 किलोमीटर है, जिसका सबसे बड़ा भाग उत्तर प्रदेश में 1000 किलोमीटर है। इस दौरान कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना, कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी, केंद्रीय राज्यमंत्री सत्यपाल, सांसद मुरलीमनोहर जोशी समेत तमाम नेतागण मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision