Latest News

Friday, April 6, 2018

कानपुर - अवैध ग्लू भट्टियाँ शहर की हवा में घोल रहीं जहर


कानपुर 6 अप्रैल 2018 (विशाल तिवारी) सूबे के मुखिया के लाख प्रयासों के बावजूद विभागीय अफसर सुधरने का नाम नही ले रहे हैं। जाजमऊ में चल रही ग्लू भट्टियां प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान को ठेंगा दिखाती नजर आ रही हैं। सूत्रों की मानें तो चंद पैसों के लालच में स्थानीय थाने से मिलीभगत कर हवा में जहर घोला जा रहा है। जिस कारण वायु प्रदूषण लगातार फैल रहा है। जिससे आसपास के लोगों को सांस लेना भी भारी पड़ रहा है। दिन पर दिन लोग दमे और खांसी जैसी बीमारियों का शिकार बनते जा रहे हैं। 



कानपुर के चकेरी थानाक्षेत्र के जाजमऊ इलाके में ग्लू भट्टियां फिर से चल पड़ी हैं। जाजमऊ के रिहाइशी एरिया में लगातार अवैध ग्लू भट्टियां चल रही हैं। सड़ा और खराब चमड़ा भट्टियों में जला कर खुलेआम ग्लू बनाने का कार्य किया जा रहा है। इन भट्टियों के कारण क्षेत्र में दमा, खांसी और टीबी जैसी घातक बीमारियों ने क्षेत्र में अपने पांव पसारने शुरू कर दिए है। हवा में घुल रहा ये जहर आस-पास के क्षेत्रों के लिए भी लगातार समस्या बनता जा रहा है। इसी वजह से 2 महीने पहले सभी ग्लू भट्टियां जिला प्रशासन ने नष्ट करा दी थी। सूत्रों के अनुसार अवैध ग्लू के कारोबारियों ने स्थानीय पुलिस से सेटिंग करके अवैध ग्लू भट्टियां पुनः चालू कर दी है। जोकि फ्री में बीमारियां बांट रही है। 



प्रशासन और प्रदूषण विभाग आंख पर पट्टी बांध कर बैठा हुआ है। इस मामले में एसीएम 2 धीरेंद्र सिंह का कहना है कि जो भी अवैध ग्लू भट्टियां चल रही थी उन्हे बंद करा दिया गया था। अगर भट्टियाँ दोबारा शुरू हो गयी है तो फिर से बंद कराया जाएगा तथा प्रदूषण बोर्ड को भी कार्रवाई के लिए लिखा जायेगा। ग्लू भट्टियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाएगी।



जब यूपी संदेश न्यूज़ ने चकेरी थानाध्यक्ष से इस मामले पर बात की तो उन्होंने कहा कि अगर कोई ग्लू भट्टी उनके क्षेत्र में धधकती पायी गयी तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision