Latest News

Saturday, April 21, 2018

नोन नदी बचाओ समिति गठित कर अधिवक्ताओं ने किया पूजन: जितेंद्र चौहान

कानपुर देहात 22 अप्रैल 2018 (अमित राजपूत) नदी तालाब तो प्रकृति का वह तोहफा है। जिसके चलते न केवल भूमिगत जल के स्तर में गिरावट को रोककर पेयजल की समस्या को कम किया जा सकता है, बल्कि जीवों के जीने के अधिकार को भी सुरक्षित रखा जा सकता है। किन्तु निजी हित स्वार्थवश बारा टोल संग्रहण प्रबंधकों ने नोन नदी के प्राकृतिक स्वरूप को बदल कर उसके प्रवाह की दिशा में टोल संग्रहण प्लाजा निर्माण कर प्रवाह बाधा उतपन्न कर, उसे एक छोटी नाली के रूप में परिवर्तित कर दिया हैl यह बात सिविल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेन्द्र प्रताप सिंह चौहान ने बारा टोल प्लाजा प्रबंधन से नोन नदी मुक्त कराओ अभियान के क्रम में सिविल बार एसोसिएशन व साधन सहकारी समिति फत्तेपुर रोशनाई द्वारा बारा टोल प्लाजा के पास शांतिपूर्ण सांकेतिक नदी पूजन  कार्यक्रम के दौरान कही। जितेन्द्र चौहान ने कहा कि कानपुर कालपी रोड पर बारा गॉंव के पास स्थापित टोल संग्रहण प्लाजा छल, कपट व कुटकरण के आधार पर राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 25 व भौति से रूमा की ओर बाईपास पुल पर अवैध रूप से धन वसूली हेतू कानपुर कालपी रोड़ के नीचे से गुजर रही नोन नदी के प्राकृतिक प्रवाह मार्ग में बाधा उत्पन्न कर, टोल संग्रहण प्लाजा स्थापित किया गया है। जितेंद्र चौहान बताया कि नोन नदी प्राकृतिक मार्ग से टोल हटाने हेतु पूर्व में जिलाधिकारी को ज्ञापन देने के बाद शीघ्र कोई कार्यवाही न होते देख नोन नदी बचाओ समिति गठित कर शांतिपूर्ण आन्दोलन के क्रम में आज सांकेतिक नोन नदी पूजन किया गया, तथा अग्रिम कार्य योजनाओं पर चर्चा हुई। जिला बार महामन्त्री मुलायम सिंह यादव ने कहा कि वह टोल की अवैध अवस्थिति व वसूली पर अग्रिम रणनीतिक के तहत जिला बार एसोसिएशन कार्यकारिणी की अति शीघ्र बैठक कर अग्रिम रणनीति तय करेंगे। साधन सहकारी समिति फत्तेपुर रोशनाई अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह सेंगर ने टोल को किसान विरोधी व जिला विकास में एक बड़ी बाधा बताया और इसे हटाने में जनांदोलन में सहभागी होने की बात कही। प्रमुख रूप से एकिकृत बार एसोसिएशन के पूर्व उपाध्यक्ष रामदेव सिंह, संजय सिसौदिया, दीपक यादव, योगेन्द्र प्रताप सिंह चौहान, अभिजीत साहू अधिवक्ता एवम देवेन्द्र सिंह उपाध्यक्ष साधन सहकारी समिति फत्तेपुर रोशनाई, समाजसेवी दीपक सिंह चौहान, श्यामू शुक्ला, पूर्व प्रधान आघू कमालपुर, अनिल भदौरिया, सत्येन्द्र सिंह आर्य व अशोक त्रिवेदी आदि मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision