Latest News

Monday, April 9, 2018

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश अनुपालन में परिवार कल्याण समिति का हुआ गठन: अधिवक्ता जितेंद्र चौहान

कानपुर देहात 9 अप्रैल 18 (अमित राजपूत) उच्चतम न्यायालय ने दाखिल फौजदारी अपील संख्या 1265 सन 2017 राजेश शर्मा बनाम उत्तर प्रदेश राज्य आदि में उच्चतम न्यायालय ने दिनांक 27 जुलाई 2017 को आदेश पारित किया है कि दहेज प्रताड़ना से सम्बंधित मुकदमों की सुनवाई तथा स्थापित करने के लिए परिवार कल्याण समिति का गठन किया जाए,अतः इसी आदेश के अनुपालन को उत्तर प्रदेश राज्य स्तर पर सुनिश्चित किया जाए। इस हेतु उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ ने प्रदेश के सभी जनपद न्यायाधीशों को सम्बन्धित जिलों के पदेन अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण होते है। यह पत्र जारी कर निर्देश जारी किया है कि सभी जिलों में परिवार कल्याण समिति का गठन किया जाए यह जानकारी सिविल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेन्द्र प्रताप सिंह चौहान ने कानपुर देहात की परिवार कल्याण समिति के बनाये गए सदस्य सामाजिक कार्यकर्ता रजत गुप्ता व नागेन्द्र सिंह भदौरिया के जनपद न्यायालय परिसर में आयोजित स्वागत समारोह के अवसर पर कही। जितेन्द्र चौहान ने बताया कि उपरोक्त दो पुरूष सदस्यों के अलावा एक महिला सदस्य रेणुका सचान को बनाया गया है। नामित सदस्य प्रति कार्य दिवस जनपद न्यायालय स्थित ए डी आर भवन में बैठ कर अपना कार्य निष्पादित करेंगे। सदस्यों के कार्यों के सम्बंध में जानकारी देते हुए बताया कि दहेज उत्पीड़न से सम्बंधित कोई भी शिकायत पुलिस थाना अथवा मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रस्तुत होने पर उक्त शिकायत को समिति के समक्ष सन्दर्भित किया जाएगा। समिति दोनों पक्षों से वार्तालाप करके उनके पक्ष को सुनेगी तथा अधिकतम एक माह के अन्दर अपनी आख्या प्रस्तुत करेगी। समिति हर मामले में वास्तविक स्थिति तक अपनी राय का भी निष्कर्ष देगी। जितेन्द्र चौहान ने बताया कि प्रदत्त ब्यवस्था के अनुसार जब तक समिति की कोई आख्या प्राप्त नही होगी तब तक किसी पक्षकार को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। समिति की आख्या को पुलिस विवेचनाधिकारी तथा मजिस्ट्रेट के द्वारा गुण दोष के आधार पर विचार किया जाएगा। समिति के सदस्यों को न्यायालय में किसी भी मामले में गवाही के लिये नही बुलाया जाएगा। मामले में पक्षों में सुलह हो जाती है तो सम्बन्धित न्यायालय द्वारा न्यायिक प्रक्रिया के तहत मामले को तय किया जाएगा। 


इस अवसर पर नामित सदस्यों को माल्यार्पण कर स्वागत करते हुऐ जिला बार एसोसिएशन के महामंत्री मुलायम सिंह यादव, एकिकृत बार के पूर्व उपाध्यक्ष रामदेव सिंह, वरिष्ठ अधिवक्ता संजय सिंह सिसोदिया ने कहा नामित सदस्यो की भूमिका परिवारों को जोड़ने में अत्यधिक होगी। सदस्यों को दी गयी जिम्मेदारी वर्तमान समय मे बहुत ही बड़ी है और सदस्यों की निस्वार्थ, निष्पक्ष भूमिका परिवारों को जोडने में अत्यधिक रहेगी। अधिवक्ता समुदाय सर्वोच्च न्ययालय के आदेश से खुश है तथा अपना पूरा समर्थन परिवार कल्याण समिति को प्रदान करता है। इस अवसर पर नामित सदस्यों रजत गुप्ता और नागेन्द्र सिंह भदौरिया ने कहा आज उन्होंने अपना कार्यभार ग्रहण करने के साथ ही यह सौगन्ध ली है वह उन्हें दिए गए दायित्वों को निष्पक्ष, निर्भीक रह कर बिना भेदभाव, लालच, दबाव के यथाशीघ्र अवधि में निस्तारित कर अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे। इस अवसर पर प्रमुख़ रूप से शैलेन्द्र सिंह गौर, धर्मेन्द्र प्रताप सिंह , सन्तराव गौर, हिमांशु भदौरिया, सुधांशु भदौरिया, शिवम कश्यप, शिवेन्द्र सिंह, अभिषेक सिंह, डॉ राजकुमार यादव व अंकित सक्सेना आदि लोग मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision