Latest News

National News
Crime News

Social News

Uttar Pradesh

International

Politics

Recent Posts

Thursday, July 18, 2019

कुशीनगर: संभावित बाढ़ आपदा से बचाव एवं राहत के लिये रकबा जंगली पट्टी में हुआ मॉक ड्रिल।


जिला प्रशासन द्वारा बाढ़ से निपटने के लिए व बाढ़ में फसे नागरिकों को तुरन्त राहत मुहैया कराके उन्हे सुरक्षित स्थानों पर कैसे पहुंचाया जाय एवं बाढ़ के बाद आने वाली समस्याओं के सम्बन्ध में आज तमकुहीराज तहसील अंतर्गत रकबा जंगली पट्टी  में पूर्वान्ह 9 बजे से मध्यान्ह 1 बजे तक माकड्रिल का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी डॉ0 अनिल कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने संयुक्त रूप से सम्भावित बाढ़ के दृष्टिगत विभिन्न विभागों द्वारा के8 गई तैयारियों का जायजा लिया गया साथ ही पुलिस विभाग के जवानों(SDRF) ने आने वाली आपदा से निपटने हेतु एक्सरसाइज के माध्यम से आम जन को आवश्यक जानकारी दी गई तथा बाढ़ के समय प्रयोग किये जाने वाले विभिन्न उपकरणों से अवगत कराया। परन्तु जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि बाढ़ के दौरान राहत कार्य पहुंचाने के लिए किए जाने वाले माॅक ड्रिल में कही कुछ कमी दिखाई दे रही है उसे तत्काल पूर्ण कर लें, जिससे वास्तविक स्थिति आने पर राहत कार्य तत्काल प्रभाव से दिया जा सके। माॅक ड्रिल में कृत्रिम ढंग से डूबते हुए व्यक्ति की जान रेस्क्यू टीम द्वारा रेस्क्यू कर बचाने तथा प्राथमिक उपचार देकर तत्काल एम्बुलेन्स से अस्पताल पहुंचवाने का अभ्यास भी कराया गया। ए0डी0आर0एफ0 इंस्पेक्टर ने प्रजेन्टेशन के माध्यम से आपदा प्रबन्ध बिन्दुओं के बारे में जानकारी दी      जिलाधिकारी ने कहा कि अब प्रदेश सरकार के निर्देश पर बाढ़ जैसी आपदा आने पर पहले से तैयारी रखी जाएगी उसी क्रम में माॅकड्रिल किया जा रहा है तथा आपदा राहत कार्यों में लगने वाले अधिकारियों कर्मचारियों को प्रशिक्षण देकर पहले से ही ऐसी आपदाओं से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार कर किया जा रहा है। आपदा राहत से जुड़े सभी विभागों जैसे पुलिस, स्वास्थ्य, बाढ़ खण्ड, राजस्व विभाग, लोक निर्माण विभाग, आपूर्ति विभाग, पशुपालन सहित अन्य सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों कोे निर्देश दिए हैं कि बाढ़ के दौरान वे सब अपने-अपने विभागों की जिम्मेदारियां ठीक से समझ लें ,ताकि तत्काल उन तैयारियों का धरातल पर अमल हो सके। जिलाधिकारी ने अधिशाषी अभियन्ता सिंचाई एवं अधिशाषी अभियन्ता बाढ़ को निर्देशित किया कि  कि पड़ोसी राष्ट्र नेपाल के अधिकारियों से सम्पर्क करके प्रतिदिन बैराज में बढ़े जल स्तर की जानकारी लेते रहें, ताकि आम जन मानस को एलर्ट करके उन्हे सुरक्षित किया जा सके। इसके साथ ही बाढ़ के दौरान बाढ़ में फसें लोगों को तुरन्त वंहा से निकालने के लिए सड़क मार्ग, मोटर बोट, और हेलीकाप्टर से ही निकाला जा सकता है इसके लिए भी सड़कों का उच्चीकरण एवं अन्य व्यवस्थाओं के लिए कार्य योजना भी बनाई जाए। जिलाधिकारी ने मौजूद अधिकारियों को निर्देश दिए कि आपदा राहत के मामलों में जिस भी विभाग की जो भी जिम्मेदारी हो वे उसे पूरी जिम्मेदारी केे साथ समय से पूर्ण कराएं नही तो कठोर कार्यवाही होगी। मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए कि वे बाढ़ प्रभावित सभी गांवों में शत-प्रतिशत टीकाकरण करवा दें। इसके लिए हर गांव, हर मजरे में स्वास्थ्य कर्मी घर-घर जाकर महिलाओं व बच्चों का टीकाकरण जल्द से जल्द करा दें, पशुओं का टीकाकरण भी अनिवार्य रूप से कराए जाएं। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने आम जन से सुरक्षा व्यवस्था से संबंधित सभी को भरोसा दिलाया कि आपदा के समय विल्कुल घबराएं नही पुलिस के जवान हर समय आप के साथ मौजूद रहेंगें। इसी क्रम में अपर जिलाधिकारी विंध्यवासिनी रॉय ,उप जिलाधिकारी तमकुही राज अरविंद कुमार,व आपदा विशेषज्ञ अरविंद कुमार राय ने भी आपदा के समय आने वाली कठिनाईयों के संबंध में विधिवत जानकारी दी गई। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट उप जिलाधिकारी कसया अभिषेक पाण्डेय, पडरौना रामकेश यादव, खडडा दिनेश कुमार, कप्तान गंज राशिद अनवर, हाटा प्रमोद कुमार, सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी गण व भारी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित रहे।

रिपोर्ट- आर के विश्वकर्मा

नेशनल आवाज़ कुशीनगर

कुशीनगर : वेतन व्रद्धि न मिलने से वन विभाग कर्मचारियों ने किया हंगामा।





कुशीनगर जिले के न्यूनतम दैनिक कर्मचारियों का वर्तमान वेतन कुशीनगर वन कर्मचारी 4 महीने से बंद कर दिया गया है जबकि न्यूनतम दैनिक वन कर्मचारी व वन वृक्षारोपण कार्य करने वाले माली का सुप्रीम कोर्ट द्वारा आदेशित किया गया कि 15 हजार से 18 हजार प्रति माह का मूल्य वेतन दिया जाएगा जिसका शासनादेश हर जिले को प्रेषित कर दिया गया। लेकिन इसी क्रम में कुशीनगर जिले के वन विभाग के कर्मचारियों का वेतन 5 महीने से नही मिला है। जबकि वेतन पुराने स्केल से 4 हजार  से 45 सौ प्रतिमाह वेतन दिया जाता है। वहीं वन विभाग के कर्मचारियों का कहना है कि हम सभी लोगों पिछले महीने से 25 सौ से 3 हजार रुपये वेतन के रूप में दिया गया है ऐसे कर्मचारियों को वेतन मूल्य दिलाने का सुप्रीम कोर्ट द्वारा आदेशित कर दिया गया लेकिन आज तक दैनिक मजदूरी करने वाले कर्मचारी को वेतन नही दिया गया। इस बात से गुस्साए कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर जमकर हंगामा किया।

रिपोर्ट- आर के विश्वकर्मा

नेशनल आवाज़ कुशीनगर

Wednesday, July 17, 2019

कानपुर: पुलिस ने सड़क तक किया अवैध कब्जा, राहगीरों के लिए हो रही परेशानी।


पुलिस अभी तक भू माफियाओं को कब्जा कराने के लिए जानी जाती थी पर आज स्थिति यह है कि पुलिस स्‍वयं अवैध कब्जा कर निर्माण कर रही है और रोकने वाला कोई नही है। मामला कानपुर का खूबसूरत जगह घंटाघर चौराहे का है। यहां पर सुतरखाना चौकी इंचार्ज स्‍वयं सड़क तक कब्जा कर अवैध निर्माण करा रहे हैं। सड़क पर हो रहे अवैध निर्माण से आम लोगों के बीच चर्चा बनी हुई है कि जब पुलिस ही अवैध निर्माण कराकर कब्जा करने पर उतारू हो जाएगी तो शहर की तस्वीर और तकदीर कैसी होगी ये तो भगवान ही जाने। गौरतलब है कि पूरे शहर में अतिक्रमण और अवैध वेन्डिंग के खिलाफ अभियान चलाये जाने से कई लोग बेरोजगार हो गये हैं। ऐसे में आम जनमानस भौंचक्का है कि जनता को ज्ञान देने वाले आखिर किसके आदेश से खुद अवैध निर्माण करा रहे हैं। लोगों का कहना है कि आखिर इन पर कब होगी कार्यवाही।

रिपोर्ट- मंगल सिंह तोमर

नेशनल आवाज़ कानपुर

Tuesday, July 16, 2019

कानपुर: वृक्षारोपण कर स्वच्छ वातावरण का लिया संकल्प।


कानपुर के पुरवामीर में स्थित एमजीए कालेज में करीब 200 पौधारोपण केर वातावरण को दूषित होने का बचाव किया गया वहीं पर कालेज के शिक्षक , शिक्षकाओं का कहना है कि सभी लोगों को अपने जीवन मे वृक्षो को अधिक मात्रा में लगा कर वातावरण को दूषित होने से बचाये और जीवन मे वास्तु शास्त्र में पेड़-पौधों को विशेष महत्व दिया गया है। पेड़-पौधों को घर के आसपास लगाने से मिलता सुख व आनंदमय जीवन महसूस हित है। दुनिया ने शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसको प्रकृति से प्यार ना हो। पेड़-पौधे इंसान की जिंदगी में बहुत महत्व रखते हैं। वास्तु शास्त्रों में भी पेड़-पौधों को विशेष महत्व दिया गया है। अगर घर में वास्तु के अनुसार पेड़-पौधे लगाए जाएं तो उनसे घर में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ने लगती है। जिससे घर के सदस्यों का स्वास्थय, मन और कामकाज में मन लगता है जिससे हम हमेशा उन्नति की तरफ ही जाते हैं। पीपल, नीम, आंवला, आम, केला और बांस जैसे अनेकों पेड़ घर और आस पास  के लिए सबसे उत्तम माने जाते हैं तो चलिए जानते हैं।
पेड़-पौधों को घर में लगाना शुभ माना जाता है सबसे जरुरी बात घर की उत्तर-पूर्व दिशा में कम ऊंचाई वाले पौधे जैसे तुलसी, गेंदा, आंवला, चंपा-चमेली आदि लगाने से घर की वायु शुद्ध होती है। घर के दक्षिण-पश्चिम में ऊंचे पेड़ जैसे कि नीम का पेड़ और पीपल आदि लगाने से घर के सभी वास्तु दोष दूर होते हैं।


रिपोर्ट - सौरभ गुप्ता

नेशनल आवाज़  फतेहपुर

Monday, July 15, 2019

फतेहपुर: तेज रफ्तार डीसीएम ने वैन में मारी टक्कर, कई घायल।


फतेहपुर जनपद के औंग थाना के सामने शिक्षक और शिक्षिकाओं को ले जा रही वैन को तेज रफ्तार डीसीएम ने जोरदार टक्कर मार दी जिससे एक डॉक्टर महिला समेत दो शिक्षिकाएं व दो शिक्षक गंभीर रुप से घायल हो गए। घटना को देख आसपास के क्षेत्रीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी व घायलों की मदद के लिए दौड़े। थाने के बगल चाय वाले ने देखा तो बचाने के लिए दौड़ पड़े। आनन फानन में घायल 4 शिक्षिकाओं को पास के स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां दो पुरुषों की हालत नाजुक देखते हुए डाक्टरों ने जिला अस्पताल फतेहपुर के लिए रेफर कर दिया। जनकारी के मुताबिक कानपुर से प्रतिदिन खजुहा क्षेत्र में शिक्षक और शिक्षिकाओं को लेकर वैन आती जाती थी। आज विद्यालय की छुट्टी के बाद सभी लोग वैन में बैठकर कानपुर अपने घर जा रहे थे तभी औंग थाने के सामने प्रयागराज नेशनल हाइवे पर यह हादसा हो गया। औंग पुलिस की तत्परता के चलते डीसीएम पकड़ी गई पर चालक फरार हो गया। वहीं औंग पुलिस डीसीएम चालक की तलाश कर रही है। डीसीएम की टक्कर इतनी जोरदार थी वैन के परखच्चे उड़ गए।

रिपोर्ट- सौरभ गुप्ता 

नेशनल आवाज़ फतेहपुर

महराजपुर: करणी सेना के जिला महामंत्री सोमेन्द्र प्रताप सिंह बनाए गए।


करणी सेना कानपुर के संगठन में विस्तार करते हुए जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंह भदोरिया राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना ने सोमेंद्र प्रताप सिंह को जिला महामंत्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना कानपुर नगर मनोनीत किया है । नियुक्ति एक वर्ष के लिए है सोमेन्द्र प्रताप सिंह से पूर्ण आशा है कि आप अनुशासन में रह कर संघटन ओर समाज के कार्यो में अपना सर्वत्र योगदान देंगें। वहीं सोमेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि मैं संगठन से मिले दायित्व को पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी से निर्वहन करते हुए समाज के उत्थान, स्वाभिमान एवं गरिमा को बनाएं रखने का वचन देता हूं तथा हमारे संगठन के पदाधिकारी एवं सम्मिलित समस्त भाईयों के साथ चलने एवं आंदोलनों मे निस्वार्थ सहयोग करूंगा। इस मौके पर विजय प्रताप सिंह, सागर सिंह परमार, सुमित ठाकुर, सौरभ परिहार, भानू सिंह, राहुल सिंह, सुधीर सिंह, ब्रजेंद्र सिहं ने हर्ष  व्यक्त किया।

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Created By :- KT Vision